Top Indian Ceo’s : जानिए भारतीय मूल के उन 10 सीईओ के बारे में, जो दुनिया के बड़े बिजनेस घरानों का कर रहे नेतृत्व

Top Indian Ceo's

Top Indian Ceo’s :  भारत को कर रहे गौरवांन्वित

Top Indian Ceo’s : प्राचीन काल में भारत विश्व गुरू के तौर पर दुनिया का नेतृत्व करता था हो सकता है आज इस बात पर कोई सहमत ना हो.

मगर आज के समय में भी हमारे भारत के कुछ ऐसे सुरमा हैं जो दुनिया के अलग अलग देशों के बड़े संगठनों का नेतृत्व कर रहे हैं. हमारे लिए गर्व करने वाली बात यह है कि नासा से लेकर गूगल तक हर जगह भारत के इन चेहरों ने अपनी चमक बिछाई हुई है.
आइए आज आपको ऐसे ही कुछ बिजनेसमेन लोगों के बारे में बताते हैं जो अपने दम पर बाहर की कंपनियों के शीर्ष पद पर बैठकर उनका नेतृत्व कर रहे हैं.
संजय झा
भारतीय मूल के संजय झा वर्तमान में ग्लोबल फाउंड्रीज़ के सीईओ हैं. यह कंपनी सेमीकंडक्टर बनाने का काम करती है जिसका मुख्यालय अमेरिका के कैलिफोर्निया में है.
इस फर्म में शामिल होने से पहले संजय मोटोरोला मोबिलिटी के सीईओ थे. इसके अलावा उन्होंने क्वालकॉम कंपनी में चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (सीओओ) के रूप में भी काम किया हुआ है.
अजयपाल सिंह बंगा उर्फ अजय बंगा
अजयपाल भी एक भारतीय अमेरिकी बिजनेसमैन हैं, जो फिलहाल मास्टर और मास्टरकार्ड के सीईओ हैं. इसके साथ ही वह यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल (यूएसआईबीसी) के अध्यक्ष भी हैं, जो भारत में निवेश करने वाली 300 से अधिक अंतरराष्ट्रीय कंपनियों का प्रतिनिधित्व करती है.
बंगा को इस साल की फॉर्च्यून मैगजीन द्वारा 6 वें सबसे प्रभावशाली बिजनेस पर्सन की लिस्ट में जगह दी गई है. इसके अलावा उन्हें हार्वर्ड बिजनेस रिव्यू के सर्वश्रेष्ठ सीईओ की 2017 की लिस्ट में भी 40वीं रैंक दी गई है.
राकेश कपूर
राकेश कपूर एक भारतीय व्यापारी हैं और वर्तमान में रेकिट बेन्किइजर के सीइओ हैं, जो एक कंज्यूमर गूड्स कंपनी है. इस कंपनी का मुख्यालय इंग्लैंड में है.
बता दें कि सीईओ बनने से पहले राकेश ने सेल्स मैनेजर और जनरल मैनेजर के तौर पर भी काम किया हुआ है.
शांतनु नारायण
अजय पाल की तरह शांतनु नारायण भी एक भारतीय-अमेरिकी बिजनेसमैन हैं और वर्तमान में एडोब सिस्टम के सीईओ भी. कंपनी के सीईओ बनने से पहले वो राष्ट्रपति के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर के रूप में भी काम कर चुके हैं.
वह फाइजर और यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल के एक बोर्ड के सदस्य भी हैं, और उन्हें 2016 और 2017 में बैरॉन की पत्रिका द्वारा दुनिया के सर्वश्रेष्ठ सीईओ के रूप में नामित किया गया था.
इंद्रा नूयी
इंद्र नूयी इस समय पेप्सिको की सीईओ हैं. पेप्सिको कंपनी दुनिया में कोल्डड्रींक और स्नैक्स जैसे कई खाद्य पदार्थों का उत्पादन करती है. नूयी को दुनिया के 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं में भी स्थान दिया गया है.
कंपनी के सीईओ के तौर पर नूयी की उपभोक्ताओं को स्वस्थ और अधिक पौष्टिक उत्पादों को वितरित करने पर अधिक ध्यान देने की कोशिश है.
सुंदर पिचई
सुंदर पिचाई का जन्म दक्षिण भारत के मदुरई जिले में हुआ था और उनकी शिक्षा भी भारत में हुई है. वह वर्तमान में विश्व की सबसे बड़ी टेक कंपनी गूगल के सीईओ हैं. और इससे भी पहले उन्होंने मैकिन्से एंड कंपनी में मैनेजमेंट कनसलटेंट के तौर पर काम किया था.
हाल ही में, पिचई चीनी कंपनियों को ग्लोबल स्तर पर पहुंचाने के लिए काम कर रहे हैं.
सत्या नडेला
सत्या नारायण नडेला, माइक्रोसॉफ्ट के मौजूदा सीईओ हैं. सीईओ बनने से पहले नडेला माइक्रोसॉफ्ट के क्लाउड और एंटरप्राइज समूह के कार्यकारी उपाध्यक्ष थे.
वह अब मायक्रोसॉफ्ट के काम के तरीके में बदलाव लाने की कोशिश कर रहे हैं. साथ ही वह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) को बढ़ावा देने के लिए भी बड़े पैमाने पर काम कर रहे हैं.
दिनेश पलीवाल
दिनेश पलीवाल वर्तमान में हर्मन इंटरनेशनल इंडस्ट्रीज़ के अध्यक्ष और सीईओ हैं, जो ऑटोमोबाइल की दुनिया में ऑडियो सिस्टम के लिए बहुत बड़ा नाम है.
पालीवाल ने पहले एबीबी इंडिया लिमिटेड में नेशनल फॉरेन ट्रेड काउंसिल के चैयरमैन के तौर पर काम किया है साथ ही व्यापार परिषद के अध्यक्ष के रूप में भी वो अपनी सेवा दे चुके हैं.
इस साल मार्च में ही सैमसंग ने हरमन को खरीदा है जो ऑटोमोबाइल और ऑडियो उद्योग में सबसे बड़ा सौदा साबित हुआ है.
हर्मन इंटरनेशनल कार्पोरेशन के सीईओ के रूप में पालीवाल इस सौदे के लिए सबसे आगे थे और गैम चेंजर भी साबित हुए.
राजीव सूरी
राजीव सूरी एक भारतीय कारोबारी, कार्यकारी और नोकिया के सीईओ हैं इसके अलावा वर्तमान में वो संयुक्त राष्ट्र ब्रॉडबैंड के कमिश्नर भी हैं.
वर्तमान में सूरी ने नोकिया को मोबाइल फोन के बाजार में अपने ब्रांड को फिर से स्थापित करने की कोशिश की है जो पिछले कुछ समय से मोबाइल की दुनिया में अपनी जगह खो चुका था.
फ्रांसिस्को डी ‘सूजा’
भारतीय मूल के डी सूजा नैरोबी, केन्या में पैदा हुए थे. वह वर्तमान में कॉग्निजेंट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं.
डिसूजा भी टीम का एक हिस्सा थे जिसने 1994 में NASDAQ-100 कंपनी की स्थापना की थी. उन्होंने हाल ही में फॉर्च्यून बिजनेसपर्सन ऑफ द इयर का खिताब दिया गया है.

For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitter, Instagram, and Google Plus