मेलबर्न टेस्ट में भारत के खिलाफ कमान संभालेंगे ऑस्ट्रेलिया के 7 साल के आर्ची

7 Year Old Archie In Australia Team

7 Year Old Archie In Australia Team : भारत के खिलाफ करेगा उप कप्तानी,कोहली को आउट करना भी है मंशा

7 Year Old Archie In Australia Team : भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच 26 दिसंबर को मेलबर्न में खेला जाएगा.

दोनों टीमों के लिए होने वाला ये  टेस्ट मैच काफी अहम माना जा रहा है क्योंकी सीरीज में हुए पिछले दो मैचों में दोनों ही 1-1 मैच जीतकर बराबरी पर है.
हालांकी भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉक्सिंग डे के दिन होने वाला ये मैच एक और खास वजह से चर्चा में है, वो है 7 साल का आर्ची.
जी हां, ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे टेस्ट मैच में अपनी टीम का ऐलान कर दिया है जिसमें 7 साल के बच्चे आर्ची शिलर को भी जगह दी गई है.
लेग स्पिनर आर्ची शिलर को टीम में 15वें खिलाड़ी के रूप में शामिल किया गया है. शिलर को टीम में शामिल किए जाने की पुष्टि खुद कंगारू कप्तान टिम पेन ने यारा पार्क में बूपा फैमिली डे आयोजन के दौरान करी.
पढ़ें – BWF वर्ल्ड टूर फाइनल जीतकर पीवी सिंधु ने रचा नया कीर्तिमान, बनीं पहली भारतीय
उन्होंने वहां बताया की इस बात का फैसला एडिलेड टेस्ट के वक्त ही हो गया था.
क्या है पूरा मामला
दरअसल नन्हे लेग स्पिनर ने ऑस्ट्रेलिया के हेड कोच जस्टिन लैंगर से कहा था कि वो विराट कोहली को आउट करना चाहता है.
वहीं क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की वेबसाइट से बातचीत करते हुए आर्ची ने यह भी कहा कि वो बड़ा होकर अपनी राष्ट्रीय टीम का कप्तान बनना चाहता है.
गौरतलब है कि जब आर्ची केवल तीन महीने का था तब पता चला था कि उनके दिल के वॉल्व सही नहीं हैं.
अपने जन्म के कुछ सप्ताह बाद ही उन्हें मेलबर्न में सात घंटे से भी अधिक समय तक ऑपरेशन से गुजरना पड़ा था और छह महीने बाद उनका एक और आपरेशन किया गया.
यही नहीं पिछले साल दिसंबर में भी उन्हें आपरेशन की प्रक्रिया से गुजरना पड़ा था. कप्तान पेन ने कहा कि आर्ची की इच्छाओंको पूरा करना उनके सपने को सच करने जैसा है.
उन्होंने बताया की हमने ना केवल आर्ची को 15वें खिलाड़ी के रूप में ना सिर्फ टीम में शामिल किया है बल्कि वो इस टेटस में मेरे सह कप्तान भी होंगे.
बॉक्सिंग डे टेस्ट
दरअसल क्रिसमस के त्यौहार यानी 25 दिसंबर के अगले ही दिन शुरू होन वाले टेस्ट को बॉक्सिंग डे टेस्ट कहा जाता है.
हालांकी इस बॉक्सिंग डे यानी 26 दिसंबर का बॉक्सिंग के खेल से कोई लेना देना नहीं होता है.

पढ़ें – कभी भरपेट भोजन के लिए करता था गेंदबाजी, अब मिला यह बड़ा मौका
ऐसा माना जाता है क्रिसमस को बड़े पैमाने पर सेलीब्रेट करने वाले लोग या फिर कंपनियां उसके अगले दिन अपने कर्मचारियों को बॉक्स यानी डिब्बों में रखकर मिठाइयां या अन्य तोहफे देती है.
ठीक वैसे ही जैसे भारत में दीपावली या फिर होली के त्यौहार के वक्त दिया जाता है.  इसी वजह के चलते 26 दिसंबर को बॉक्सिंग डे के नाम से जाना जाता है और इस दिन शुरू होने वाले टेस्ट मैच को बॉक्सिंग डे टेस्ट कहा जाता है.
इसे मुख्य रूप से ऑस्ट्रेलिया, न्यूज़ीलैण्ड, कनाडा, ब्रिटेन तथा कुछ अन्य राष्ट्रमंडल देशों में प्रमुखता से मनाया जाता है