Intercontinental Cup 2018 : कप्तान छेत्री ने साबित किया दर्शकों की मौजूदगी में कितनी है ताकत

Intercontinental Cup 2018
PC - IE

Intercontinental Cup 2018 : कप्तान सुनील ने अकेले ही 2 गोल करके मैच जिता दिया.

Intercontinental Cup 2018 : रविवार को भारतीय फुटबॉल टीम ने वो कर दिखाया जिसने देश के अंदर इस खेल के भविष्य की नींव रख दी है.

दरअसल कल भारत ने इंटरकॉन्टिनेंनटल कप के फाइनल में केन्या को 2-0 से हराकर खिताब अपने नाम कर लिया.
इस मैच या फिर यूं कहे कि पूरी सीरिज में ही महत्वपर्ष भूमिका निभाई है कप्तान सुनील छेत्री ने  मुंबई के फुटबॉल एरिना में खेल गए कल फाइनल मुकाबले में भी सुनील के पैर खूब चले और उन्होंने अकेले ही 2 गोल करके मैच जिता दिया.
बता दें कि ये जीत और गोल दोनों ही अपने आप में ऐतिहासिक है क्योंकी केन्या के खिलाफ छेत्री के गोल ने उन्हें अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल खिलाड़ियों के बीच पहचान दिला दी है.
सुनील अब सक्रिय खिलाड़ियों में सबसे ज्यादा गोल करने के मामले में अर्जेंटीना के मेसी की बराबरी करते हुए दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं.
पढ़ें – एशियाई चैंपियनशिप में गोल्ड जीतने वाली देश की पहली महिला पहलवान बनी नवजोत कौर
अगर इस लिस्ट में नंबर एक के स्थान की बात करें तो ये रिकॉर्ड पुर्तगाल के सुपरस्टार क्रिस्टियानो रोनाल्डो के नाम दर्ज हैं जिन्होंने 150 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 81 गोल किए हैं.
लोगों के समर्थन का हुआ असर
दरअसल टूर्नामेंट की शुरुआत में भारत बनाम चीनी ताइपै के खिलाफ खेल गए पहले मैच में केवल 2500 लोग ही पहुंचे थे, मगर फाइनल मुकाबले में मैदान खचाखच भरा नजर आया क्योंकी ये असर था उस अपील का जो कप्तान छेत्री ने सोशल मीडिया पर की थी.
बता दें कि 33 साल के सुनील छेत्री के तीन गोलों की मदद से भारत ने इंटरकॉन्टिनेंटल कप में अपने पहले मैच में चीनी ताइपे को 5-0 की करारी शिकस्त दी थी.
मगर इस जीत के बाद भी कप्तान छेत्री काफी निराश थे क्योंकी इस मैच को देखने के लिए सिर्फ 2,569 दर्शक ही स्टेडियम पहुंचे थे जबकि पवेलियन का आधा हिस्सा खाली खाली पड़ा था.
इस बात से आहत होकर छेत्री ने मैदान के बीच से ही सोशल मीडिया पर भावुक अपील कर कहा कि “आप हमें गालियां दो, आलोचना करो, लेकिन ये सब इंटरनेट के पर्दे के पीछे छुपकर नहीं बल्कि स्टेडियम में हमें खेलते हुआ देखकर करो मेरे भारतीय “
इस बात का असर लोगों में इस कदर हो गया कि सारे मैचों की टिकट बुकिंग शुरू होने से पहले ही महज कुछ ही घंटों में बिक जाते.
छेत्री की इस अपील से प्रभावित होकर क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली समेत तमाम स्पोर्ट्स की हस्तियां ने भी दर्शकों को स्टेडियम में जाकर मैच देखने को कहा था.
पढ़ें – Snooker World Cup : भारत ने पाकिस्तान को इस खेल में हराकर जीता एक और विश्वकप
अपने हर मैच में दर्शकों की खचाखच भीड़ से उत्साहित होकर छेत्री ने कहा कि अगर दर्शक मैच देखने स्टेडियम आते हैं तो उनकी टीम का उत्साह बढ़ेगा फिर वो और अच्छा प्रदर्शन कर पाएंगे.
फुटबॉल के मैचों को देखने पहुंची भीड़ को देखकर यह कहना गलत नहीं होगा कि भारत का भविष्य सिर्फ क्रिकेट तक सीमित नहीं है इसका विस्तार अब फुटबॉल में भी होना शुरू हो गया है और इसकी रूपरेखा तैयार कर रहे हैं सुनील छेत्री.