काम के दौरान कितना अलर्ट हैं आप बताएगा ये मोबाइल ऐप

Human Alertness Scanner App

Human Alertness Scanner App : आंख की पुतली के साइज को नापकर बताएगा अलर्टनेस लेवल

Human Alertness Scanner App : क्या आज के दौर में हम स्मार्टफोन के बिना अपनी जिंदगी की कल्पना कर सकते हैं, शायद नहीं.तकनीक की इस दुनिया में जितनी तेजी से स्मार्टफोन यूजर्स की संख्या बढ़ रही है उसे देखकर तो यही लगता है

स्मार्टफोन हमारी रोजमर्रा की जिंदगी में आज इतना जरूरी हो गया है कि मानो इसके बिना किसी का कम ही नही चल सकता और इसकी निर्भरता को लोगों के बीच में बढ़ाने में सबसे बड़ा योगदान है मोबाइल ऐप्स का .
मौजूदा समय में आप अपने स्मार्टफोन और ऐप की सहायता से कई सारी सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं.
लेकिन क्या आप जानते हैं जरूरत से ज्यादा से किसी भी चीज का इस्तेमाल हमारे लिए काफी नुकसानदायक हो सकता है, कुछ ऐसा ही स्मार्टफोन के निरंतर उपयोग के मामले में भी हो रहा.
पढ़ें – सावधान! बिना हैकिंग आसानी से हाईजैक हो रहे हैं WhatsApp अकाउंट
दरअसल कई रिसर्च और सर्वे में यह बात सामने आई है कि औसतन यूजर्स दिन में करीब 3 घंटे समय स्मार्टफोन पर बिताते हैं, हालांकी ये समय और ज्यादा ही हो सकता है.
रिपोर्ट के मुताबिक ऐसा करने से इंसान की सेहत पर तो खराब असर पड़ ही रहा है साथ ही लोगों के काम करने की क्षमता पर भी इसका विपरीत प्रभाव पड़ रहा है.लेकिन आपको बता दें कि ऐप डेवलपर्स ने अब इसका विकल्प भी ढूंढ लिया है.
अमेरिका के कॉर्नेल यूनिवर्सिटी के कुछ रिसर्चर्स ने एक ऐसा ऐप तैयार किया है जो काम के वक्त आपके अलर्टनेस का लेवल बताएगा.
कैसे करेगा काम
ये ऐप आपके आंख की पुतली के साइज को मेज़र (measure)करके आपके अलर्टनेस लेवल बताने का काम करेगा.
इसके लिए वो आपके आंख की पुतली (pupil) की एक साथ कई फोटो क्लिक करेगा और फिर पुतली के साइज को आदार मानकर आपके अलर्टनेस लेवल का पता बताएगा.
पढ़ें – रुपये के मुकाबले डॉलर के मजबूत होने के पीछे का ये कारण नहीं जानते होंगे आप
काम को मैनेज करने में मिलेगी मदद
ऐप बनाने वाली यूनिवर्सिटी में पढ़ाई करने वाले छात्र विंसेंट सेंग ने बताया कि दिन में कई बार हमारा अलर्टनेस लेवल ऊपर नीचे होता है. और अगर हमे अपने इस लेवल के बारे में सटीक जानकारी मिलती है तो हम अपने दिन के काम को व्यवस्थित ढंग से कर पाएंगे.
विंसेंट ने बताया की उन लोगों द्वारा बनाया गए यह ऐप आने वाले समय में पूरी दुनिया की स्वास्थ्य सेवाओं में अधिक काम आएगा क्योंकी आजकर सभी लगों पर लगातारकाम करने का दबान बना रहता है.
ऐसे मे इस ऐप कि मदद से कोई भी ये जान सकेगा कि उसका अलर्टलेवल कितना है और आगे वो कितनी देर तक काम कर कता है. यही नहीं यह ऐप यह भी बताएगा कि काम के दौरान आपको ब्रेक कब लेना है.