नकली सामान का तुरंत पता लगाएगी IBM की आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस बेस्ड डिवाइस

IBM Fake Products Verifying Device
demo pic

IBM Fake Products Verifying Device : ये डिवाइस आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की मदद से काम करेगी

IBM Fake Products Verifying Device :  IBM ने नकली सामन का पता लगाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और ऑप्टिकल इमेजिंग की मदद से एक डिवाइस बनाई है.

इस डिवाइस से किसी भी नकली दवा, नकली वाइन, हीरा, लक्जरी सामान जैसे कई और नकली सामान का पता लगाया जा सकता है.
बता दें कि इस डिवाइस को लेकर कंपनी का दावा है कि यह माइक्रोस्कोपिक स्तर पर हर नकली सामान का तुरंत पता लगा सकती है.
आईबीएम एआई इस डिवाइस को हाइलाइट करने के लिए काफी उत्सुक थी, जिसे मनुष्य को फेक सामानों  से बचाने के लिए कई पैटर्न पर प्रशिक्षित करके बनाया गया है.
यह भी पढ़ें – Xiaomi ने भारत में पेश किया MI क्रेडिट, आसानी से यूजर्स ले सकेंगे लोन
कैसे काम करेगी डिवाइस
आईबीएम द्वारा बनाई गई यह डिवाइस एक छोटी सी चिप के आकार की है जिसे अपने फोन के कैमरे पर लगाया जाता है.
किसी भी सामान के नकली होने की जानकारी लेने के लिए उसे चिप लगे कैमरे के सामने रखा जाता है और फोन पर ऐप ओपन किया जाता है.
इसके बाद इस डिवाइस में लगा सेंसर एक्टिव हो जाता है जो आपको सामान की हर असली जानकारी दे देता है.
बता दें कि यह डिवाइस माइक्रोस्कोपी, स्पेक्ट्रोस्कोपी और एआई के थोड़ा से संयोजन किसी भी सामान की सत्यता को चैक करता और उसकी सही और गलत होने की जानकारी देता है.
इस डिवाइस में नकली सामान का पता लगाने की प्रक्रिया के लिए एक मुख्य घटक “ऑप्टिकल तत्व” है जो कैमरे के सामने लगाया जाता है. यह एक विशेष हाइपर-मैक्रो लेंस की में होता है, जो कैमरे को माइक्रोन के रूप में छोटी आकार का पता लगाने की अनुमति देता है.
यह भी पढ़ें – अब जल्द ही ‘स्मार्ट पेड़’ से कर सकेंगे मोबाइल चार्ज और इंटरनेट इस्तेमाल
गौरतलब है कि माइक्रोन लेवल पर पैटर्न और ऑप्टिकल विशेषताएं हैं जो मानव आंखों को दिखाई नहीं देती हैं.
ऐसे में ये डिवाइस छोटी से छोटी दवा की बनावट और पैटर्न, धागे की क्वालिटी, हीरा का नकली होना, वाइन या तेल का नकली होना, प्रदूषित पानी, मुद्रा, और अन्य चीजों को सेंसर की मदद से तुंरत पता लगा सकता है.