PAYTM BHIM UPI : पेटीएम और भीम हुए एक, जानें कैसे कर सकते हैं इस्तेमाल

paytm bhim upi

PAYTM BHIM UPI : एक ही प्लेटफार्म पर मिलेगी दोनों सुविधा

PAYTM BHIM UPI : देश की बड़ी मोबाइल वॉयलेट कंपनी पेटीएम ने अपने प्लेटफार्म पर सरकार द्वारा संचालित पेमेंट ऐप भीम को भी शामिल कर लिया है. यह जानकारी पेटीएम की तरफ से आज दी गई है.

कंपनी ने बताया की अब से पेटीएम पेमेंट्स बैंक इस्तेमाल करने वाले ग्राहक एक ही प्लेटफार्म पर अपनी भीम यूपीआई आईडी भी बना सकते हैं. इसके लिए यूजर्स को सिर्फ अपने बैंक खाते को पेटीएम भीम यूपीआई ऐप से लिंक कराना होगा.

http://

पेटीएम ऐप पर एक बार इस सुविधा के शुरू होने के बाद यूजर्स किसी भी बैंक को इस ऐप से लिंक करा सकते हैं.
यह भी पढ़ें Bank Aadhar Linking Status : घर बैठे जाने आपका आधार नंबर बैंक खाते से लिंक हुआ या नहीं
इस तरह बनाएं अपनी यूपीआई आईडी
ऐसा करने के लिए यूजर्स को सबसे पहले पेटीएम ऐप के होम पेज में दिखने वाले यूपीआई सेक्शन में जाना होगा.
ध्यान दें यहां आपको कोई नई आइडी नहीं बनानी होगी, आपका रजिस्टर्ज नंबर ही आपकी नई आईडी रहेगी.
इसके बाद आप अपने मौजूदा सेविंग अकाउंट को अपने नए पेटीएम भीम यूपीआई आईडी से लिंक करा सकते हैं.
लिंक करने से पहले बैंक आपके पेटीएम अकाउंट से जुड़े मोबाइल नंबर पर एक मेसेज भेजकर वेरिफाई करेगा.
नंबर वेरिफाई होने के बाद ही आप अपना ट्रॉजेंक्शन शुरू कर सकते हैं.
यह भी पढ़ें – Whats App Live Sharing : व्हॉट्स ऐप का ये नया फीचर करेगा आपकी जासूसी
एक से ज्याादा बैंक अकाउंट कर सकते हें लिंक
आपको बता दें कि पेटीएम ग्राहक अपने यूपीआई अकाउंट को एक से ज्यादा बैंकों से भी लिंक करा सकते हैं. लेकिन इसके लिए उन्हें एक प्राइमरी अकाउंट जरूर सेट करना होगा.
हालांकि पेटीएम पर भीम को एक्सेस करने के लिए यूजर्स का रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट से लिंक मोबाइल नंबर एक ही होना चाहिए.
यह भी पढ़ें– Google Online Training Program : गूगल कराएगा मुफ्त में ऑनलाइन फ्री सर्टिफिकेट काेर्स
क्या होता है भीम यूपीआई
भारत इंटरफेस फॉर मनी (BHIM) भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) के द्वारा विकसित की गई ऑनलाइन पेमेंट बैंकिंग है. इस ऐप की मदद से यूजर तुरंत पैसे भेज और पा सकते हैं.
यह यूजरों के बैंक अकाउंट्स से सीधा लिंक्ड होता है जिससे बिना किसी तीसरे के दखल के पैसों का सीधा लेनदेन किया जा सकता है. लेकिन इसके लिए यूजरों को एक यूनीक आईडी बनानी पड़ती है.

 For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitter, Instagram, and Google Plus