Pesticide Protection : 16 वर्षीय यह छात्र किटनाशकों के खतरे से बचाने के लिए किसानों को कर रहा जागरूक

pesticide protection

Pesticide Protection : रोहन की इन बातों का रखे ध्यान

Pesticide Protection : अहमदाबाद इंटरनेशनल स्कूल के 16 वर्षीय छात्र रोहन पारेख किसानों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए काम कर रहे हैं.

जिस उम्र में आमूमन बच्चे स्मार्टफोन और कैफे में अपना समय गवांते हैं वहीं रोहन ने उन बच्चों के लिए एक मिसाल कायम की है. रोहन किसानों को जहरिले किटनाशकों के छिड़काव के समय उनसे बचने के लिए जागरूक कर रहे हैं.
इस घटना से हुए बेहद आहत
कुछ रोज पहले रोहन ने अखबार में खबर पढ़ी थी कि महाराष्ट्र के सूखा प्रभावित विदर्भ क्षेत्र के यवतमाल जिले में खेतों में जहरीले कीटनाशकों के छिड़काव के कारण 20 किसानों की मृत्यु हो गई और 25 लोगों से ज्यादा की आंखों की रोशनी चली गई.
यह भी पढ़ें – Traditional Farming : बिना किसी कीटनाशक प्रयोग किए केरल का यह कबीला कर रहा पारंपरिक खेती
इस हादसे ने रोहन को झकझोर कर रख दिया और उन्होंने तय किया कि वह इसके बारे में खुद ही कुछ करेंगे.
स्कूल के बाद का समय निकालकर उन्होंने किसानों को कीटनाशकों के हानिकारक प्रभावों के बारे में शिक्षित करना शुरू किया.
उनका यह अनोखा अभियान किसानों को कीटनाशकों के कई खतरों के बारे में शिक्षित करता है और उन्हें सावधानी से इनका उपयोग करने का तरीका बताता है.
सिर्फ यही नहीं रोहन ने एक किट भी तैयार की है जिसमें इससे जुड़ी हुई सारी जानकारी के साथ ही एक मास्क भी है. जानकारी के लिए आपको बता दें कि वह अब तक 500 लोगों को यह मास्क बांट चुके हैं.
एनजीओ की ली मदद
रोहन ने हाल ही एक एनजाओ के साथ मिलकर गुजरात के पाटन जिले में कुवरा और वाग्दोड गांवों का दौरा किया था. यहां भी वो अपने साथ ले गई किट के माध्यम से किसानों को कीटनाशकों के स्वास्थ्य संबंधी खतरों के बारे में बताया.
यह भी पढ़ें Driverless Tractor : किसान पिता की मदद के लिए बेटे ने बनाया बिना ड्राइवर के चलने वाला ट्रैक्टर
उन्होंने बोर्ड,बैनर की मदद से किसानों को चेहरे ढाल, सुरक्षा चश्मा, हार्ड टोपी, सुरक्षा जूते, चश्मे, रबड़ के दस्ताने और कानप्लॉग के नमूने दिखाए जो उनके लिए सुरक्षात्मक गियर के रूप में काम कर सकते हैं. इसके अलावा उन्होंने अपनी किट के माध्यम से बताया कि कंटेनर को साफ किस तरह करना चाहिए.

pesticide protection

कीटनाशक के छिड़काव के वक्त रोहन के अनुसार इन बातों का रखे ध्यान
1) कीटनाशक को सावधानी से प्रयोग करें ताकि स्प्रे करते वक्त वह नोजल से बाहर ना निकले
2) कीटनाशक को भोजन और पानी के कंटेनरों से दूर रखें
3) कीटनाशक को केवल हवा की दिशा में ही स्प्रे करें
4) नोजल को साफ करने के लिए उसे फूक ना मारें
5) कीटनाशकों के छिड़काव के दौरान कुछ ना खाएं या धूम्रपान न करें
6) बच्चों को स्प्रे करने की अनुमति न दें
7) छिड़काव करने वाली जगह पर खाने का समान ना रखें
8) भोजन और धूम्रपान से पहले अपने हाथों और चेहरे को अच्छी तरह धो लें
9) छिड़काव के बाद तुरंत कपड़े निकालें और उन्हें तुरंत धो लें. उन कपड़ो को परिवार के कपड़ों के साथ ना धोएं. स्प्रे करते वक्त केमिकल से बचने वाले गल्व्ज पहनें.
यह भी पढ़ें – Waste Decomposer : सिर्फ 20 रुपए की इस दवा से किसानों की फसल देगी दोगुना मुनाफा
गौरतलब है कि रोहन इस समय वर्तमान में एक वीडियो पर काम कर रहे हैं जो कीटनाशकों के उपयोग के सभी पहलुओं को कवर करते हुए किसानों को जागरुक करेना का काम करेगी.

साभार – द बेटर इंडिया
For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitter, Instagram, and Google Plus