उत्तर प्रदेश- बंजर जमीन को कृषि योग्य बनाएगी सरकार

demo pic
demo pic
उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में बेकार पड़ी भूमि को कृषि योग्य बनाने का लक्ष्य तय किया है. सरकार की मंशा है कि राज्य में ड़ेढ लाख पड़ी बंजर जमीन को कृषि के काम में लाया जाए.
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस बारे में फैसला लिया गया.
बैठक के बाद राज्य के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने संवाददाताओं से कहा कि बढते शहरीकरण और औद्योगीकरण के कारण राज्य में कृषि योग्य भूमि कम होती जा रही है. उन्होंने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय किसान समृद्धि योजना के तहत प्रदेश के 68 जिलों को चिन्हित किया गया है.
इन जिलों की कुल 1 लाख 56 हजार 186 हेक्टेयर भूमि को कृषि योग्य बनाने का सरकार ने लक्ष्य रखा है. उन्होंने कहा कि सरकार ने शुरूआत में बुंदेलखंड के सात जिलों को चिन्हित नहीं किया है. क्योंकि सरकार ने उनके लिए अलग से पैकेज की व्यवस्था की है.
श्री शर्मा ने बताया कि इस योजना के तहत पांच साल के लिए कुल 477 . 33 करोड रूपये का बजट प्रावधान किया गया है. जबकि इस साल 84 करोड़ की व्यवस्था है.
इसके अलावा मंत्री जी ने बताया कि राज्य मंत्रिपरिषद के एक अन्य फैसले में सरकार ने सबके लिए आवास योजना के तहत ऐसे लोगों की मदद करना तय किया है जिनके पास जमीन तो है मगर घर नहीं है.
उन्होंने जानकारी दी कि ऐसे लोगों की मदद केन्द्र और राज्य सरकार मिलकर करेगी.
भाषा के इनपुट से