ग्रामीण इलाकों में सड़क निर्माण के लिए विश्व बैंक देगा 50 करोड़ डॉलर

pmgsy
demo pic

World Bank Rural Road Project Loan : इस ऋण में वर्ल्ड बैंक की तरफ से छूट अवधि तीन साल है

World Bank Rural Road Project Loan :  लंबे समय से भारत के रोड नेटवर्क में साथ देते रहे वर्ल्ड बैंक ने एक बार फिर हमारे देश के लिए अपने दरवाजे खोल दिए हैं.

भारत ने प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क परियोजनाओं के लिए अतिरिक्त पैसे प्रदान करने के लिए गुरुवार को विश्व बैंक के साथ $ 500 मिलियन (3,371 करोड़ रुपये) के ऋण समझौते पर हस्ताक्षर किए.
वित्त मंत्रालय की तरफ से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि इस ऋण में वर्ल्ड बैंक की तरफ से छूट अवधि तीन साल है और साथ ही 10 साल की मैचयूरिटी भी है.
मंत्रालय के मुताबिक इस समझौते के तहत मिले पैसों से 7,000 किलोमीटर की मौसम की मार से जर्जर हो चुकी सड़कों का निर्माण होगा, जिसमें से 3,500 किमी का निर्माण ग्रीन टैकनॉलोजी का उपयोग करके किया जाएगा.
बता दें कि 2004 से शुरू हुई इस योजना की शुरुआत से ही वर्ल्ड बैंक इसके साथ जुड़ा हुआ है.
यह भी पढ़ें – बेनामी संपत्ति पर 1 करोड़ व टैक्स चोरी करने वालों की सूचना देने पर 50 लाख का इनाम देगी सरकार
अब तक वर्ल्ड बैंक की मदद से उत्तर भारत – बिहार, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, मेघालय, राजस्थान, उत्तराखंड, जैसे आर्थिक रूप से कमजोर राज्यों में $ 1.8 बिलियन डॉलर से ज्यादा का निवेश किया है.
इसकी वजह से लगभग 35,000 किलोमीटर ग्रामीण सड़कों का निर्माण और सुधार किया गया है जिसका फायदा लगभग 8 मिलियन लोगों को मिला है.
प्रेस विज्ञप्ति में आगे कहा गया है कि मौजूदा 4.6 मिलियन किलोमीटर सड़क नेटवर्क का पर्याप्त रखरखाव करना एक बड़ी चुनौती के रूप में सामने आ रहा है. जिसके लिए वर्ल्ड बैंक से मदद मांगी गई थी.
उसमें बताया गया कि पहले से बने हुए रोड नेटवर्क या तो टूटने वाले हैं या अब उस स्थिति में पहुंचने वाले हैं.इसके अलावा अचानक आने वाले आपदाओं से भी रास्तों को नुकसान पहुंचता है.
इन सब बातों का ख्याल रखते हुए ग्रमीण इलाको में सड़कों का पुननिर्माण किया जाएगा. यही नहीं नए रोड नेटवर्क बनने से लोगों को रोजगार भी मिलेगा.